Gmail me Cc aur Bcc kya hota hai 2020 || जाने पूरी जानकारी हिंदी मे

Hello दोस्तों आप सभी का एक बार फिर से स्वागत है हमारे Blog technicalvkv मैं तो दोस्तों हमारे इस ब्लॉग में हम आपके लिए नई-नई काम की जानकारी लेकर आते हैं दोस्तों आज के इस ब्लॉग में हम जानेंगे कि Gmail me Cc aur Bcc kya hota hai जी हां दोस्तों इससेेेेे पहले वाली पोस्ट में हमने आपको बताया था कि Gmail और Email दोनों में क्या अंतर है Gmail और Email दोनों में क्या अंतर है आप सभी ने जीमेल का इस्तेमाल तो किया ही होगा Gmail मैं mail भेजते समय आपने देखा होगा कि To, के नीचे आपको दो ऑप्शन दिखाई देते हैं Cc और Bcc तो आज हम जानेंगे कि इन दोनों में क्या अंतर है तो चलिए शुरू करते हैं।

Gmail क्या है?

Gmail एक ईमेल सर्विस है जिसे Google के द्वारा बनाया गया है और यह पूरी तरह से फ्री है इसका इस्तेमाल आप किसी को भी E-mail भेजने के लिए कर सकते हैं Gmail के द्वारा आप अपनी इंर्पोटेंट फाइल डॉक्यूमेंट और प्रेजेंटेशन भेज सकते हैं और जीमेल में आप Text के साथ-साथ Image और Video को भी साथ में attache करके भेज सकते हैं Google ने Gmail को 1 अप्रैल 2004 में शुरू किया था और आज के समय में बड़ी-बड़ी कंपनियां जीमेल का इस्तेमाल करती है।

Cc और Bcc मैं क्या अंतर है

दोस्तों अब हम बात करते हैं कि Cc और Bcc मैं क्या अंतर है
दोस्तों अगर आप किसी को भी मेल भेजते हैं तो उस व्यक्ति की Gmail id को आप To, मैं लिखते हैं To मैं आप एक से अधिक Gmail id भी लिख सकते हैं अगर आपको एक ही मेल एक से अधिक व्यक्तियों को भेजना है।

Cc (Carbon Copy) – Cc का Full form होता है Carbon Copy इसका काम यह होता है कि अगर आप किसी को मेल भेज रहे हो और साथ ही आप चाहते हैं कि आप जिसको मेल भेज रहे हो उसकी एक कार्बन कॉपी भी आप किसी को देना चाहते हो तो उसकी Gmail id को Cc मैं लिखा जाता है Cc मैं आप एक से अधिक जीमेल आईडी भी लिख सकते हैं।

तो चलिए दोस्तों इसको हम एक उदाहरण के तौर पर समझते हैं दोस्तों मान लीजिए आप अक्षय को एक ईमेल भेजना चाहते हैं और साथ ही आप यह भी चाहते हैं कि आप जो मेल अक्षय को भेज रहे हैं उसकी एक कार्बन कॉपी आप vinod को देना चाहते हैं तो vinod की Gmail id को आप Cc मैं लिख देंगे
आप विनोद को मेल नहीं भेज रहे हैं आपने अक्षय को जो मेल भेजा है उसकी एक कार्बन कॉपी आप विनोद को भेज रहे हैंं।

Bcc (Blind Carbon Copy) – दोस्तों अब हम बात करते हैं Bcc की Bcc का Full form होता है Blind Carbon Copy इसका मतलब यह होता है कि अगर आप किसी को कार्बन कॉपी तो देना चाहते हैं और साथ ही आप यह भी चाहते हैं कि यह बात To, और Cc वालों को पता ना चले तो उस व्यक्ति की Gmail id आप Bcc मैं लिखेंगे आप जिस व्यक्ति की Gmail id Bcc मैं लिखते हैं उससे कार्बन कॉपी तो मिल जाएगी पर यह बात To, और Cc वालों को पता नहीं चलेगी Bcc मैं आप एक से अधिक Gmail id भी लिख सकते हैं।

यह भी पढ़ें

End to End Encryption kya hai 2020

Google Verified Calls kya hai 2020

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने आपको बताया की Gmail me Cc aur Bcc kya hota hai उम्मीद है दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी होगी आप हमें कमेंट करके जरूर बताएं आपको इस आर्टिकल से संबंधित मन में कोई भी सवाल हो तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं।

One thought on “Gmail me Cc aur Bcc kya hota hai 2020 || जाने पूरी जानकारी हिंदी मे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *